Sunday , January 21 2018
Home / CANCER / महान आयुर्वेद के अनुसार इस प्रकार से नशे (सिगरेट, तम्बाकू, गुटखा) की लत छोड़े एवं छुडवायें !

महान आयुर्वेद के अनुसार इस प्रकार से नशे (सिगरेट, तम्बाकू, गुटखा) की लत छोड़े एवं छुडवायें !

तंबाकू सेहत के लिए हानिकारक है। जिन लोगों को इसकी बुरी लत लग जाती है। उनकी सेहत दिन पर दिन खराब होने लगती है। विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) ने कहा है कि एक सिगरेट जिंदगी के 11 मिनट और सिगरेट का एक पैकेट 3 घंटे 40 मिनट छीन लेता है। जो युवा लड़के-लड़कियां कम उम्र में धूम्रपान करते हैं, उनमें से 50 फीसदी की मौत तंबाकू से होने वाली बीमारी के कारण हो जाती है। सिगरेट न पीने के मुकाबले जो लोग धूम्रपान करते हैं उनकी जिंदगी 22 से 26 प्रतिशत तक कम हो जाती है। विश्व तंबाकू निषेध दिवस के अवसर पर आज स्वास्थ्य संगठन की ओर से वैश्विक स्तर पर चलाए गए जन अभियान में सिगरेट और अन्य तंबाकू उत्पादों की आदतें छोडऩे के लिए कुछ सामान्य नुस्खे सुझाए गए हैं। इस अनुसार किसी भी चीज को अपनाने और छोडऩे के लिए मन में एक निश्चय करना बहुत जरूरी होता है

अगर सिगरेट की आदत नहीं छूटती तो कोशिश करें की इसे धीरे-धीरे कम करें। पहले एक दिन सिगरेट छोड़े फिर 2 दिन और फिर धीरे -धीरे सप्ताह में एक सिगरेट पर आ जाएं। अपने करीबी दोस्तों और परिवार के सदस्यों से इसमें सहयोग लें। जब भी सिगरेट पीने का मन करें, किसी से बात करें ताकि वह आपका ध्यान किसी और चीज में बंट सकें।दोस्त अगर आपको सिगरेट पीने का दबाव डालें तो उनसे साफ कहे कि अब आप सिगरेट नहीं पीएंगे।

संगठन ने कहा है कि तंबाकू उत्पादों से छुटकारा पाने के लिए सबसे जरुरी है कि लोग सिगरेट या तंबाकू के उत्पाद अपने पास नहीं रखें। तंबाकू और सिगरेट पीने की आदत को छोडऩे के दौरान सिरदर्द, कफ, वजन बढऩा,अनिद्रा जैसी परेशानियां हो सकती हैं ऐसें में इनसे बचने के लिए लाइफस्टाइल में बदलाव लाना जरूरा है। इसके लिए शारीरिक व्यायाम,पौष्टिक भेाजन,पर्याप्त जल और ध्यान को रोजमर्रा की जिंदगी का हिस्सा बनाना पड़ेगा।
WHO के अनुसार इन उपायों को आजमाने का असर बहुत जल्दी ही स्वास्थ्य पर दिखने लगेगा। सिगरेट छोडने के महज 20 मिनट के अंदर रक्तचाप और दिल की धड़कन सामान्य हो जाएगी। महज 12 घंटे में रक्त में कार्बन मोनोक्साइड का स्तर घटकर सामान्य स्तर पर आ जाएगा। 2 से 12 सप्ताह में रक्त प्रवाह सामान्य हो जाएगा और फेफड़े से ठीक से काम करने लगेंगे। 1 से 9 महीने के अंदर खांसने और सांस में तकलीफ की शिकायत दूर हो जाएगी। 5 साल के भीतर दिल का दौरा पडने ,फेफड़ों में जकडन और शरीर के अन्य हिस्सों में कैंसर का खतरा 50 फीसदी घट जाएगा इसलिए सिगरेट या तंबाकू के बने अन्य उत्पादों के सेवन की आदतें जितनी जल्दी छोड दी जाएं उतना बेहतर होगा।

Check Also

धुम्रपान से खराब हो चुके फेफड़ों के लिए रामबाण है यह इलाज़

For Smokers and Ex-Smokers: This Drink Will Cleanse Your Lungs अगर हम अपने फेफड़ों की …